अंतर्राष्ट्रीय अंडा उद्योग दुनिया को पोषित करने के लिए सहायता करने का संकल्प करता है

12 अक्टूबर शुक्रवार को विश्व अंडा दिवस है, और इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय अंडा उद्योग द्वारा वास्तव में बदलाव लाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय अंडा आयोग (आईईसी) और दुनिया भर के अंडा संघों की सहायता के साथ, अंडा उद्योग ने अल्पपोषितों और कुपोषितों को पोषित करने के लिए सहायता करने; दुनिया भर में लोगों के लिए एक स्थायी, किफायती, उच्च गुणवत्ता वाले भोजन की आपूर्ति प्रदान करने का संकल्प किया है।

ज़रूरतमंदों की सहायता करने के लिए वैश्विक अंडा उद्योग की प्रतिबद्धता के हिस्से के रूप में, आईईसी ने संयुक्त खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) के साथ काम करना शुरू किया है। एफएओ यह सुनिश्चित करने के प्रति समर्पित है कि दुनिया भर के लोगों को उच्च गुणवत्ता वाले भोजन के लिए नियमित पहुँच प्राप्त हो, और इसे हासिल करने में अंडे अभिन्न भूमिका निभा सकते हैं।

आईईसी द्वारा विश्व अंडा दिवस की स्थापना 1996 में की गई थी। आईईसी अध्यक्ष, जॉन आइवी, का कहना है कि: “1996 से दुनिया भर में अंडा-उत्सव मनाने और दुनिया भर के लोगों के भोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। उद्योग के रूप में हम एक ऐसे उत्पाद का उत्पादन करने के लिए बहुत गौरवान्वित महसूस करते हैं, जो दुनिया भर के बहुत से लोगों को फायदा पहुँचा सकता है, इसलिए इस वर्ष विश्व अंडा दिवस पर, हम सार्वजनिक रूप से खाद्य संगठनों और विकासशील देशों के साथ काम करने का संकल्प कर रहे हैं, ताकि प्रत्येक व्यक्ति तक अंडों की पहुँच प्रदान करने में सहायता मिल सके।

“हम अपने उद्योग की कार्पोरेट और सामाजिक ज़िम्मेदारियों के प्रति प्रतिबद्ध हैं, और हम खाद्य और कृषि संगठन के साथ काम करने के लिए हर्षित हैं, जिसके द्वारा हम उन्हें उनके सभी लोगों के लिए उच्च गुणवत्ता वाला भोजन उपलब्ध कराने के कार्य में सहायता करने में सक्षम हो पाएँगे।

यह अनुमान है कि दुनिया भर में एक अरब लोग वर्तमान में अल्पपोषित और कुपोषित हैं, और अगले 40 वर्षों के दौरान, जनसंख्या में 3 अरब लोगों की और अधिक वृद्धि होगी।

अंडों में दुनिया की बढ़ती हुई जनसंख्या को भोजन खिलाने की शक्ति है – और इसके साथ-साथ यह उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन का बहुत बेहतर स्त्रोत है, जिसमें स्वस्थ आहार के लिए ज़रूरी आवश्यक विटामिन और खनिज शामिल हैं, अधिकांश दुनिया में अंडे किफायती और आसानी से उपलब्ध भोजन के स्त्रोत हैं, और इनसे निम्न कार्बन प्रभाव का अतिरिक्त लाभ होता है।

इस वर्ष विश्व अंडा दिवस पर न्यूज़ीलैंड से मंगोलिया तक, दक्षिण अफ्रीका से कनाडा तक दुनिया भर में कार्यक्रम आयोजित किए जाएँगे; विश्व भर के शहरों के चौराहों, शॉपिंग सेंटरों, सामुदायिक केंद्रों और स्कूलों में त्योहार, प्रतियोगिताएँ, पोषण वार्ताएँ और खाना पकाने के प्रदर्शन होंगे। जैसे विश्व इस विशिष्ट आहार का जश्न मनाने के लिए एक साथ जुड़ रहा है, जिसे पोषण विशेषज्ञों ने “खनिज मिश्रण” और “प्रकृति की विटामिन गोली” के रूप में संदर्भित किया है, यह सुनिश्चित करें कि आपका संगठन इसमें शामिल हो – चलिए 12 अक्टूबर, शुक्रवार को विश्व अंडा दिवस को शानदार रूप से मनाएँ।

www.worldeggday.com

Comments are closed.

← Back